There was an error in this gadget

Sunday, March 7, 2010

दूसरा निवाला (फलाने-धमाके)...महिला आरक्षण

लीजिये पेस है दूसरा निवाला.....खबरदार पानी मत पीजिएगा...
धमाके...
हाँ फलाने...
यार!! अगर महिला आरक्षण बिल पहले पास हो गया होता तो बहुत अच्छा होता.
क्यों, तो क्या हो जाता ?
राहुल महाजन को दुल्हन तलासने के लिए स्वयंवर नहीं करना पड़ता.
हा हा हा ....सही कहा तुने..संसद में ही तलाश लेते.
और पता है मुलायम महिला आरक्षण बिल का विरोध क्यों कर रहे हैं.
क्यों, तू ही बता दे ....
क्योंकि अखिलेश की शादी हो चुकी है.
अब संसद में उनका कोई चांस नहीं है ....
हा हा हा ..ये भी सही.

2 comments:

  1. main samjha nahin Tej.. na to Rahul bewda saansad hai aur na akhilesh yadav.. fir sansad me kaise??? :)

    ReplyDelete
  2. dipak ji sahi kaha aap ne wo aap ko agli kadi main pata chalega..............

    ReplyDelete